Quotes worth a Million

किस शायर से कहू
के क्या खूब कहा हैं
हर एक की शायरी
बहुत खूब रहा हैं

सोचता हूँ मैं भी
उनकी तरह क्यों नहीं लिखता
जिस नज़र से वोह दुनिया देखते हैं
क्या वोह मुझे नहीं दीखता

फिर भी आज कल के शायरों में
मेरा भी कुछ नाम हैं
जब लोग वाह वाह केहते हैं
वही मेरे लिए इनाम हैं

ना तो मैं मजरूह हूँ
और ना ही हूँ समीर
लेकिन शायरों के शायरिओं से
मैं हूँ बड़ा अमीर

Advertisements

Comments on: "किस शायर से …" (3)

  1. wah janaab waah

  2. bvshaila said:

    ,hi

    Isaa hi likhthe rehna

  3. wah, kya khoob ,
    wah kya khoob,
    likhte rehna,
    aisa panne,
    padthe rahe hum deewane.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: